पत्नी संघमित्रा और सास-ससुर की हत्या कर Police Station पहुंचा नजिबुर रहमान, लॉकडाउन में हुआ था प्यार

Image-Twitter-@MithilaWaala

Image-Twitter-@MithilaWaala

नई दिल्ली: कोरोना काल में सोशल मीडिया के माध्यम से दोस्ती शुरू हुई और फिर उसने प्यार का रंग ले लिया। अक्सर प्यार की कहानी ऐसे ही शुरू होती है। लेकिन उसका दर्द कई बार लोगों को दहला के रख देता है या अदालतों के चौखटों पर एड़ी रगड़ने को मजबूर कर देता है। एक ऐसी ही घटना सामने आई है जिसने हर किसी को दहला दिया। मामला असम के गोलाघाट जिले का है, जहां नजिबुर रहमान नामक एक शख्स ने अपनी पत्नी समेत अपने ससुर और सास की निर्मम हत्या कर दी। नजिबुर रहमान हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद सीधे पुलिस स्टेशन पहुंचा और उसके हाथ में 9 महीने का बच्चा था, जहां उसने आत्मसमर्पण कर दिया।  

रिपोर्ट के मुताबिक नजिबुर रहमान और संघमित्रा ने घर से भागकर कोलकाता की एक कोर्ट में लव मैरिज कर ली थी। जिसके बाद संघमित्रा के परिवार के लोगों ने उन्हें फिर से घर लाया लेकिन इसी दौरान संघमित्रा पर चोरी का आरोप लगाकर जेल भेज दिया। जिसके कारण संघमित्रा को एक महीने जेल में रहना पड़ा लेकिन उसके बाद उसे जमानत मिली और वो फिर से परिवार के पास वापस लौट आई।  लेकिन उसके बाद संघमित्रा और नजिबुर रहमान एक बार फिर से घर से भाग गए, लेकिन इस बार जब संघमित्रा लौटी तो वो गर्भवती थी।

इसी दरम्यान संघमित्रा ने एक बच्चे को जन्म दिया, लेकिन वो अपने मां-बाप के पास वापस लौट आई।  दरअसल उनके रिश्तों में खटास आ चुकी थी और संघमित्रा ने नजिबुर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में मामला दर्ज करा दिया था।  जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन जैसे ही नजिबुर रहमान जेल से जमानत पर छुटा तो वो अपने बच्चे से मिलने की कोशिश करने लगा।  

इस दौरान संघमित्रा के परिवार और नजिबुर रहमाना में कई बार नोकझोंक भी हुई।  लेकिन एक दिन नजिबुर रहमान धारदार हथियार के साथ पत्नी के घर पहुंचा और अपनी पत्नी की हत्या की और बाद में सास-ससुर को मारकर वहां से अपने बच्चे लेकर निकल गया। जिसके बाद वो पुलिस स्टेशन पहुंचा। फ़िलहाल आरोपी के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और मामलें की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »