PM मोदी का फ्रांस और यूएई का दौरा: कल सुबह होंगे रवाना, जानें उनका शेड्यूल

PM Modi

File Photo

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) दो दिवसीय फ्रांस (PM Modi France Visit)  यात्रा पूरी करने के बाद लौटते हुए 15 जुलाई को अबू धाबी जायेंगे जहां वे संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के राष्ट्रपति और अबू धाबी (Abu Dhabi) के शासक शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नह्यान (Sheikh Mohammed bin Zayed Al Nahyan) के साथ ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा, रक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों पर द्विपक्षीय संबंधों को आगे ले जाने के लिए वार्ता करेंगे।

विदेश मंत्रालय के बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 13-14 जुलाई को फ्रांस की यात्रा पर जा रहे हैं। फ्रांस की यात्रा पूरी करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी अबू धाबी जायेंगे। बयान में कहा गया है ‘‘ भारत-यूएई की समग्र सामरिक साझेदारी सतत रूप से मजबूत हो रही है और प्रधानमंत्री की यात्रा ऊर्जा, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, खाद्य सुरक्षा, फिनटेक, रक्षा और संस्कृति सहित विभिन्न क्षेत्रों में इसे गहरा बनाने के रास्ते तलाशने का अवसर प्रदान करेगी।”

इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री की इस यात्रा से दोनों पक्षों को वैश्विक मुद्दों पर सहयोग को लेकर चर्चा करने का अवसर मिलेगा जो खासतौर पर सीओपी -28 की यूएई की अध्यक्षता और जी20 की भारत की अध्यक्षता के परिप्रेक्ष्य में अहम है। यूएई जी20 सम्मेलन में विशेष आमंत्रित देश है।

यह भी पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 13-14 जुलाई को फ्रांस की यात्रा पर जा रहे हैं । प्रधानमंत्री की यह यात्रा फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के निमंत्रण पर हो रही है। मोदी 14 जुलाई को फ्रांस में बैस्टिल दिवस समारोह में विशिष्ट अतिथि होंगे। इसमें भारतीय सेना के तीनों अंगों की एक टुकड़ी भी हिस्सा ले रही है।  विदेश मंत्रालय के अनुसार, राष्ट्रपति मैक्रों, प्रधानमंत्री के सम्मान में एक राजकीय भोज की मेजबानी करेंगे तथा एक निजी रात्रि भोज भी देंगे। दोनों नेताओं के बीच विविधि विषयों पर व्यापक चर्चा होगी।

इसमें कहा गया है कि, ‘‘ प्रधानमंत्री मोदी का फ्रांस के प्रधानमंत्री तथा वहां की सीनेट एवं नेशनल एसेम्बली के अध्यक्षों से मुलाकात का भी कार्यक्रम है।” प्रधानमंत्री मोदी अलग से फ्रांस में भारतीय समुदाय के लोगों, भारतीय एवं फ्रांसीसी कंपनियों के सीईओ तथा फ्रांस के गणमान्य लोगों से भी संवाद करेंगे।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, प्रधानमंत्री की यह यात्रा सामारिक, वैज्ञानिक, अकादमिक और आर्थिक सहयोग जैसे विविध क्षेत्रों में भविष्य के सहयोग का रास्ता तलाशने का अवसर प्रदान करेगी। बैस्टिल दिवस समारोह में हिस्सा लेने के लिए भारतीय सशस्त्र बलों की 269 सदस्यीय तीनों सेनाओं की टुकड़ी दो सी-17 ग्लोबमास्टर विमानों में सवार होकर बृहस्पतिवार को पेरिस के लिए रवाना हुई थी। हेलीकॉप्टर पायलट स्क्वाड्रन लीडर सिंधु रेड्डी परेड में भारतीय वायुसेना के मार्चिंग दस्ते का नेतृत्व करेंगी। इसमें भारतीय वायु सेना के कम से कम तीन राफेल लड़ाकू विमान भी हिस्सा लेंगे। (एजेंसी)

इन जैसी अधिक खबरें पढ़ने अख्बार365 पर लोग ऑन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »