Piles पाइल्स से परेशान लोगों को इस फूल से मिल सकती है बड़ी राहत, जानिए किन चीज़ों से मिलाकर बनाएं औषधि

File Photo

File Photo

नई दिल्ली: ‘बवासीर’ (Piles) एक गंभीर समस्या है जिससे आजकल बहुत से लोग पीड़ित रहते हैं। यह रोग खराब खान-पान और सुस्त जीवनशैली से जुड़ा है। कई बार बवासीर खुद ठीक हो जाती है लेकिन कई बार दवाओं और यहां तक कि सर्जरी की जरूरत भी पड़ सकती है। कई आयुर्वेदिक उपचार हैं, जिनके जरिए बवासीर से राहत मिल सकती है। आइए जानें गेंदे से बवासीर, यानी पाइल्स का इलाज कैसे करें।

जानकारी के अनुसार, गेंदे के पत्ते भी औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। बवासीर के इलाज के लिए आप करीब 10 से 15 ग्राम गेंदे के पत्तों को 2 ग्राम काली मिर्च एक साथ पीस लें। इस पेस्ट को पानी के साथ पीएं, आपको लाभ मिलेगा।

पाइल्स यानी बवासीर की समस्या जिन लोगों में होती है, उनके मलद्वार के आसपास कई मस्से जैसे निकल आते हैं, जिनमें खुजलाहट, दर्द होता है। आचार्य बालकृष्ण के अनुसार, बवासीर के इलाज के लिए 5-10 ग्राम गेंदे के फूलों को घी में भूनकर दिन में तीन बार लें। इससे बवासीर में होने वाली ब्लीडिंग या खूनी बवासीर में फायदा मिलता है।

यह भी पढ़ें

बवासीर में होने वाली ब्लीडिंग रोकने के लिए आप 250 ग्राम गेंदे के पत्ते और केले की दो किलो जड़ लें और दोनों को रात में पानी में भिगो दें। सुबह इसका अर्क निकाल लें। इस अर्क का 15-20 मिली सेवन करें।

बवासीर होने पर क्या खाएं-फाइबर डाइट

एक्सपर्ट्स के अनुसार, फाइबर वाली डाइट लेने से मल को नरम करने में मदद मिलती है। इससे कब्ज को रोकने, शौच करते समय दर्द, जलन और परेशानी को कम करने में मदद मिल सकती है। फाइबर पाचन को दुरुस्त करने का भी बेहतर तरीका है। फल और सब्जियां फाइबर से भरपूर होती हैं। इन सामान्य आयुर्वेदिक उपचार को अपनाकर बवासीर यानी पाइल्स से निजात पा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »