China : चीन को खुफिया जानकारी देने के आरोप में 2 अमेरिकी नौसैनिक गिरफ्तार

File Photo

File Photo

सैन डिएगो: अमेरिका के दो नौसैनिकों पर बृहस्पतिवार को चीन China को संवेदनशील सैन्य जानकारी प्रदान करने के आरोप लगाए गए। इन जानकारियों में युद्धाभ्यास, नौसैनिक अभियान और महत्वपूर्ण तकनीकी वस्तुओं से जुड़ी जानकारियां शामिल हैं। कैलिफॉर्निया के दोनों नौसैनिकों पर चीन को संवेदनशील खुफिया जानकारी देने के अलग-अलग मामले दर्ज किए गए हैं, लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या एक ही चीनी खुफिया अधिकारी ने एक बड़ी साजिश के तहत दोनों को रिश्वत का भुगतान किया था। संघीय अधिकारियों ने सैन डिएगो में एक संवाददाता सम्मेलन में यह बताने से मना कर दिया कि आरोपी नौसैनिक एक-दूसरे से परिचित हैं या नहीं।

नौसैनिकों ने सैन डिएगो और लॉस एंजिलिस की संघीय अदालतों में खुद को निर्दोष बताया। दोनों को आठ अगस्त को उन्हीं के शहर में होने वाली सुनवाई तक हिरासत में रखने का आदेश दिया गया। अमेरिकी अधिकारियों ने चीन सरकार की ओर से की जा रही कथित जासूसी को लेकर वर्षों से चिंता जताई है। पिछले कुछ वर्षों में बीजिंग के कई खुफिया संस्थानों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। आरोप है कि इन संस्थानों ने अवैध हैकिंग के जरिये संवेदनशील सरकारी और वाणिज्यिक जानकारी चुराई है।

यह भी पढ़ें

सैन डिएगो स्थित यूएसएस एसेक्स में तैनात 22 वर्षीय नौसैनिक जिनचाओ वेई को बुधवार को जहाज पर चढ़ते समय गिरफ्तार किया गया। उस पर एसेक्स और अन्य युद्ध पोतों पर मौजूद हथियारों एवं विमानों की जानकारी साझा करने के आरोप लगाए गए हैं। अभियोजकों ने दावा किया कि चीन को खुफिया जानकारी उपलब्ध कराने के बदले वेई को बीते एक साल में 10 से 15 हजार अमेरिकी डॉलर की रिश्वत मिली। दोषी करार दिए जाने पर उसे उम्रकैद की सजा हो सकती है।

वहीं, सैन डिएगो के उत्तर में स्थित नौसेनिक अड्डे वेंचुरा काउंटी में तैनात 26 वर्षीय वेनहेंग झाओ पर अगस्त 2021 से मई 2023 के बीच एक चीनी अधिकारी से अमेरिकी नौसैनिक अभ्यास योजनाओं और परिचालन आदेशों से जुड़ी जानकारियों के अलावा अहम उपकरणों की तस्वीरें एवं वीडियो साझा करने के आरोप लगाए गए हैं, जिसके बदले उसे कथित तौर पर 15,000 अमेरिकी डॉलर की रिश्वत मिली। (एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »