मिलेंगे 30 रुपये प्रति किलो टमाटर, यहां पढ़े जरुरी जानकारी

tomato-Price

नई दिल्ली: जैसा कि हम देख रहे है पिछले एक महीने से पुरे देश में टमाटर की कीमतों ने आसमान छू लिया है। जी हां देश के ज्यादातर हिस्सों में टमाटर 150 से 200 रुपये प्रति किलो बिक रहा है। ऐसे में अब इस बड़ी महंगाई के कारण टमाटर का उपयोग लोग कम कर रहे है। वहीं अब कुछ लोगों  ने लागत से बचने के लिए टमाटर खरीदना बंद कर दिया है।

वहीं आपको बता दें कि कुछ जगहों पर आम लोगों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार ने 70 रुपये प्रति किलो की दर से टमाटर देना शुरू कर दिया है। इस बीच, आम आदमी को राहत देते हुए टमाटर की कीमतें जल्द ही 30 रुपये तक कम होने की संभावना है। जी हां आइए यहां जानते है आखिर क्या है ये पूरी खबर…

दरअसल केंद्र सरकार के हस्तक्षेप के बाद टमाटर की कीमतें गिरने लगी हैं। साथ ही यह गिरावट अगस्त के मध्य तक जारी रहने की संभावना है।  जानकारों के मुताबिक आने वाले समय में टमाटर की कीमतों में गिरावट जारी रहने के संकेत मिल रहे हैं। साथ ही अगस्त के मध्य तक ये कीमतें स्थिर हो सकती हैं। अगस्त के मध्य तक टमाटर की कीमतें 30 रुपये प्रति किलो तक पहुंच सकती हैं। साथ ही इस दौरान कीमतें भी स्थिर हो सकती हैं।

एनएचआरडीएफ के निदेशक पी. क। गुप्ता ने कहा कि टमाटर की कीमतें सामान्य स्तर पर लौटने से पहले अगले 10 दिनों में प्रति किलोग्राम टमाटर की कीमत 50 किलोग्राम तक कम हो सकती है। गुप्ता ने ऑफ-सीजन मांग को पूरा करने के लिए टमाटर प्यूरी के उपयोग को लोकप्रिय बनाने के लिए एक दीर्घकालिक योजना का सुझाव दिया। इसका कारण यह है कि रेफ्रिजरेटर में टमाटर की शेल्फ लाइफ अधिकतम 20 दिन होती है।

इसके अलावा नियंत्रित वातावरण (सीए) कोल्ड स्टोरेज का उपयोग करना आर्थिक रूप से व्यवहार्य नहीं हो सकता है। टमाटर की कीमतें आमतौर पर जुलाई और अगस्त के महीने में बढ़ती हैं। इसके पीछे कम उत्पादन और बारिश के कारण आपूर्ति श्रृंखला में व्यवधान को कारण बताया जा रहा है। इस साल भी कई राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ के कारण टमाटर की सप्लाई कम हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »