संजय राउत बोले- साजिश के तहत दूसरी पार्टियों को तोड़ रही बीजेपी, भ्रष्ट लोग बेदाग घोषित

Sanjay Raut

मुंबई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के कद्दावर नेता अजित पवार (Ajit Pawar) और पार्टी के कुछ अन्य विधायकों के पार्टी से बगावत करने तथा एकनाथ शिंदे सरकार में शामिल होने के बाद महाराष्ट्र की सियासत गरमाई हुई है। इस बीच शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के वरिष्ठ नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने बीजेपी (BJP) पर पार्टियों को तोड़ने का आरोप लगाया है।

संजय राउत ने कहा, “यह बीजेपी की साजिश है। वे दूसरी पार्टियों को तोड़ रही है, उन्हें अपनी पार्टी में ला रहे हैं। महाराष्ट्र में आप इसे देख सकते हैं। जो लोग सबसे ज्यादा भ्रष्ट थे, वे बीजेपी में शामिल होने के बाद बेदाग घोषित हो गए हैं। शरद पवार ने जो कहा है वह देश की भावना है।”

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने शनिवार को नासिक में कहा कि, “ऐसा प्रतीत होता है कि राज्य स्तरीय पार्टियों को नष्ट करने की भाजपा की योजना है। उन्होंने अलग-अलग जगहों पर ऐसा किया है। चुनावी लोकतंत्र में विपक्षी दल भी उतना ही महत्वपूर्ण है जितना सत्तारूढ़ दल। लेकिन भाजपा की नीति विपक्ष को कमजोर करने की है।”

पवार ने कहा कि भाजपा जानती है कि सच क्या है, इसलिए वह 2024 में लोकसभा चुनाव में बहुमत पाने के लिए अन्य दलों को तोड़ रही है। उन्होंने कहा कि यह चुनावी लोकतंत्र के लिए बहुत नुकसानदेह है। राकांपा नेता ने कहा कि जिन लोगों के साथ उनके मतभेद हैं, उन्हें वह अपना दुश्मन नहीं समझते। उन्होंने कहा, “मतभेद का मतलब शत्रुता नहीं है।”

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि 2 जुलाई को एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने पार्टी में विभाजन का नेतृत्व करते हुए सत्तारूढ़ सरकार में उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। अजित पवार के अलावा छगन भुजबल और हसन मुशरिफ समेत राकांपा के आठ अन्य विधायकों ने भी शिंदे सरकार में मंत्री पद की शपथ ली। अजित पवार गुट ने दावा किया है कि पार्टी के कुल 53 विधायकों में से 40 विधायकों का उन्हें समर्थन प्राप्त है। इसके बाद अजित पवार ने 5 जुलाई को शक्ति प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्हें मात्र 31 विधायकों का ही समर्थन मिला था।

इन जैसी अधिक खबरें / लेख पढ़ने अख्बार365 पर लोग ऑन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »