राजस्थान में घूमना हुआ आसान, पर्यटन स्थलों पर एक ही स्मार्ट कार्ड से मिलेगी एंट्री

Rajasthan Tourist Places

Pic Source- Twitter

जयपुर: राजस्थान सरकार (Rajasthan Government)  एक ऐसी प्रणाली पर काम कर रही है जिसके तहत पर्यटकों को एक ही स्मार्ट कार्ड के माध्यम से कई स्मारकों में प्रवेश और परिवहन सुविधाओं तक पहुंच प्राप्त होगी। योजना के तहत सूचना प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा एक पोर्टल विकसित किया जायेगा, जिसमें पर्यटन विभाग नोडल एजेंसी है तथा परिवहन विभाग (Tourism Department) भी एक हिस्सा है। पर्यटन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि शुरुआत में पर्यटकों को एक स्मार्ट कार्ड के जरिए कई स्मारकों तक पहुंच मिलेगी, जिसे समय समय पर रिचार्ज कराना होगा।

अधिकारी ने बताया कि इस उद्देश्य के लिए एक पोर्टल विकसित किया जाएगा। पर्यटकों को प्रत्येक स्मारक पर बिना टिकट खरीदे वहां भ्रमण करने की सुविधा होगी। राज्य में सरकारी संरक्षित स्मारकों पर एक ही कार्ड मान्य होगा। इस कार्ड का एकीकरण रोडवेज की सेवाओं के साथ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शुरुआती चरण में अंतरराज्यीय यात्रा के लिए केवल ‘सुपर लग्जरी बसों’ को ही सेवा में शामिल किया जाएगा।

 एक अन्य अधिकारी ने कहा कि स्मार्ट कार्ड की वैधता इस तरह से तय की जाएगी कि इससे स्मारकों पर भीड़ प्रबंधन में भी मदद मिल सके। उन्होंने कहा, ‘‘प्रणाली को लेकर लागों की प्रतिक्रिया के आधार पर सेवा का विस्तार किया जाएगा और निजी संग्रहालयों या स्मारकों को भी इसमें शामिल किया जाएगा। इससे टिकट के लिए कतार में खड़े होने की जरूरत खत्म हो जाएगी और समय और संसाधनों की बचत होगी।” उन्होंने बताया, ‘‘इस प्रणाली का दायरा बड़ा है।

छोटे पैमाने पर सफल कार्यान्वयन के बाद राजस्थान पर्यटन विकास निगम (आरटीडीसी) के स्वामित्व वाले होटल, निजी होटल और रिजॉर्ट में रहने, कैब सेवा जैसी अन्य पर्यटक सेवाओं का एकीकरण भी किया जा सकता है।” उदयपुर स्थित एक पर्यटक गाइड गजेंद्र सिंह ने कहा कि टिकट खरीदना पर्यटकों के लिए एक समय लेने वाली प्रक्रिया बन गई है, खासकर पीक सीजन के दौरान और अगर यह प्रणाली शुरू हो जाती है, तो इससे यात्रियों को काफी आसानी होगी। उन्होंने बताया कि ऐसी प्रणाली निश्चित रूप से राज्य के पर्यटन उद्योग के बारे में एक सकारात्मक संदेश देगी।

पर्यटन राजस्थान के प्रमुख उद्योगों में से एक है, 2022 में 1087.5 लाख पर्यटक राज्य में आएंगे। राजस्थान में किलों और महलों के अलावा वन्यजीव, झीलें और धार्मिक स्थल भी अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन, इटली, जर्मनी, स्पेन और ऑस्ट्रेलिया सहित देश-विदेश से बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। (एजेंसी)

इन जैसी अधिक खबरें पढ़ने अख्बार365 पर लोग ऑन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »