फ्रांस ‘मेक इन इंडिया’ और ‘आत्मनिर्भर भारत’ में एक महत्वपूर्ण भागीदार: PM मोदी

Narendra Modi and French President Emmanuel Macron

AP/PTI Photo

पेरिस. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि अगले 25 वर्ष में भारत-फ्रांस रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने के लिए साहसिक और महत्वाकांक्षी लक्ष्यों के साथ एक रूपरेखा तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि रक्षा सहयोग संबंधों का एक मजबूत स्तंभ है। दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर यहां आये मोदी का फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने अपने आधिकारिक आवास ‘एलिसी पैलेस’ में गर्मजोशी से स्वागत किया, जिसके बाद दोनों नेताओं ने प्रेस बयान जारी किये।

मोदी ने राष्ट्रपति मैक्रों के साथ एक संयुक्त प्रेस वक्तव्य में कहा, “भारत और फ्रांस रणनीतिक साझेदारी की 25वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। हम अगले 25 साल की रूपरेखा तैयार कर रहे हैं। हम इसके लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि रक्षा संबंध हमेशा से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों का आधारस्तंभ रहे हैं। उन्होंने कहा, “यह दोनों देशों के बीच आपसी भरोसे का प्रतीक है।” मोदी ने कहा, “फ्रांस ‘मेक इन इंडिया’ और आत्मनिर्भर भारत में एक महत्वपूर्ण भागीदार है… चाहे वह पनडुब्बी हो या नौसैनिक विमान, हम एक साथ मिलकर न केवल अपनी, बल्कि अन्य मित्र देशों की आवश्यकताओं को भी पूरा करना चाहते हैं।”

उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी और यूक्रेन संघर्ष का प्रभाव दुनियाभर में महसूस किया गया है। उन्होंने कहा कि ‘ग्लोबल साउथ’ के देशों पर विशेष रूप से नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। प्रधानमंत्री ने कहा, “यही चिंता की बात है। ऐसी समस्याओं का समाधान तलाशने के लिए देशों को एकजुट होकर प्रयास करना जरूरी है। हमारा मानना है कि सभी विवादों को बातचीत और कूटनीति से ही सुलझाया जा सकता है। भारत दीर्घकालिक शांति की बहाली के लिए योगदान देने को तैयार है।”

मोदी ने कहा, “भारत और फ्रांस आतंकवाद के खिलाफ जारी लड़ाई में एकजुट रहे हैं। हमारा मानना है कि सीमा पार आतंकवाद को खत्म करने के लिए कड़ी कार्रवाई की जरूरत है।” उन्होंने कहा, “हम फ्रांस में भारत के ‘यूनीफाइड पेमेंट इंटरफेस’ (यूपीआई) को शुरू करने पर सहमत हुए हैं।”

उन्होंने यह भी घोषणा की कि भारत बंदरगाह शहर मार्सिले में एक नया वाणिज्य दूतावास खोलेगा। इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी फ्रांस के राष्ट्रीय दिवस समारोह के तहत शुक्रवार को आयोजित बैस्टिल दिवस परेड में राष्ट्रपति मैक्रों के साथ विशिष्ट अतिथि के तौर पर शामिल हुए। इस मौके पर फ्रांसीसी लड़ाकू विमानों के साथ भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के राफेल लड़ाकू विमान भी ‘फ्लाईपास्ट’ में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »