उत्तरी सागर में 3 हजार कार ले जा रहे जहाज में लगी आग, एक भारतीय Indian की मौत, 20 अन्य घायल

Image-Twitter-@mtkblb

Image-Twitter-@mtkblb

लंदन: नीदरलैंड तट के पास उत्तरी सागर में लगभग 3,000 कार लेकर जा रहे एक मालवाहक जहाज में भीषण आग लग गई, जिससे चालक दल के एक भारतीय सदस्य की मौत हो गई और 20 अन्य घायल गये। नीदरलैंड के तटरक्षकों ने चेतावनी दी है कि यह आग बुझाने में लंबा समय लग सकता है। पनामा में पंजीकृत 199 मीटर लंबे जहाज “फ्रीमेंटल हाईवे” पर आग मंगलवार की रात लगी, जो जर्मनी से मिस्र जा रहा था। आग लगने के बाद चालक दल के कई सदस्य जान बचाने के लिये पानी में कूद गये।

नीदरलैंड स्थित भारतीय दूतावास ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि जहाज में आग लगने के कारण एक भारतीय नागरिक की मौत हो गई। दूतावास ने बुधवार को एक ट्वीट में कहा, “हम उत्तरी सागर में जहाज ‘फ्रीमेंटल हाईवे’ से जुड़ी घटना को लेकर बहुत दुखी हैं, जिसमें एक भारतीय नागरिक की मौत हो गई और चालक दल के कई सदस्य घायल गये।” दूतावास ने कहा कि वह मृतक के परिवार के संपर्क में है और मृतक के शव को स्वदेश वापस भेजने के लिए सहायता कर रहा है।

दूतावास की ओर से किए गए एक ट्वीट में बताया गया है, “दूतावास, हादसे में घायल चालक दल के 20 अन्य सदस्यों के भी संपर्क में है। सभी सुरक्षित हैं और उनका इलाज चल रहा है। नीदरलैंड के अधिकारियों और शिपिंग कंपनी की ओर से हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।” तटरक्षक बल के एक प्रवक्ता ने बुधवार को सीएनएन को बताया कि चालक दल के 23 सदस्यों को जहाज से बाहर निकालने के लिए बचाव नौकाओं और हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल किया गया था, क्योंकि कुछ लोग जान बचाने के लिये पानी में कूद गए थे।

नीदरलैंड के राष्ट्रीय प्रसारक एनओएस ने बताया कि आग संभवत: जहाज पर मौजूद 25 इलेक्ट्रिक कारों में से किसी एक के कारण लगी होगी।  वहीं, एक तटरक्षक बल के सदस्य ने कहा कि आग लगने के लगभग 16 घंटे बाद भी अग्निशमन दल, उसे बुझाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। एक प्रवक्ता ने कहा कि यह सुनिश्चित करने में लंबा समय, शायद हफ्तों लग सकते हैं कि आग पूरी तरह बुझ गई है। उन्होंने कहा ‘‘फिलहाल दमकलकर्मियों को जहाज पर भेजना खतरे से खाली नहीं है।”

प्रवक्ता एडविन ग्रामेमेन ने एनओएस को बताया ‘‘आग बुझाने के लिए अगर जहाज में पानी भरा जाए तो वह अस्थिर हो सकता है और फिर उसे बचाना मुश्किल होगा क्योंकि वह डूब जाएगा।” डच न्यूज समाचार चैनल की खबर के अनुसार, जहाज के चालक दल के 23 सदस्यों ने पहले तो खुद ही आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन आग तेजी से फैल गई। फिर रोटेरदैम से आग बुझाने के विशेषज्ञों को बुलाया गया लेकिन तब तक हालात नियंत्रण से बाहर हो चुके थे।  चैनल की खबर में कहा गया है कि चालक दल के सात सदस्य पानी में कूद गए जिन्हें आसपास के जहाजों ने बचा लिया। शेष को हेलीकॉप्टर की मदद से बचा लिया गया। (एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »