आज मनाया जाएगा International Nelson Mandela Day, जानिए कौन थे नेल्सन मंडेला

International Nelson Mandela Day will be celebrated today, know who was Nelson Mandela

हर साल 18 जुलाई को ‘नेल्सन मंडेला इंटरनेशनल डे'(International Nelson Mandela Day 2023) मनाया जाता है। जानकारों के अनुसार, साउथ अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति ‘नेल्सन मंडेला’ की गिनती उन महान हस्तियों में की जाती है जिन्होंने अपने कार्य और विचार से दुनिया के सामने मिसाल पेश की। अपना पूरा जीवन शांति और रंगभेद के खिलाफ समर्पित करने वाले ‘मंडेला’ के सम्मान में हर साल दुनिया भर में उनके जन्मदिन के उपलक्ष्य में 18 जुलाई को ‘नेल्सन मंडेला इंटरनेशनल डे’ मनाया जाता है। आइए जानें इस दिन के इतिहास और इसे मनाने के मकसद के बारे में-

इतिहास

मंडेला ने जीवन भर शांति हेतु और रंगभेद के खिलाफ काम किया। बता दें उनके अतुलनीय संघर्ष के लिए उनके जन्मदिन को नेल्सन मंडेला अंतर्राष्ट्रीय दिवस (Nelson Mandela International Day) के रूप में मनाया जाता है। यह दिवस लोगों गरीबी से लड़ने हेतु, सांस्कृतिक विविधता एवं दुनिया भर में शांति और सुलह के प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है।

नेल्सन मंडेला नोबेल शांति पुरस्कार विजेता एवं दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति थे।  मंडेला दिवस, जिसे नेल्सन मंडेला अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में भी जाना जाता है। यह नस्लीय भेदभाव और मानवाधिकारों के हनन के विरुद्ध दक्षिण अफ्रीकी नेता की 67 साल की लंबी लड़ाई का उत्सव है। वे देश के पहले अश्वेत राष्ट्रपति थे।

नेल्सन मंडेला ने अपना पूरा जीवन रंगभेद उसके खिलाफ और शांति के लिए संघर्ष करते हुए बिताया था। ऐसे में इस दिन का मकसद लोगों को गरीबी से लड़ने, सांस्कृतिक विविधता और दुनिया भर में शांति एवं सुलह के लिए प्रोत्साहित करना है। इस दिन को 67 मिनट मंडेला दिवस के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि सामाजिक न्याय के लिए मंडेला ने 67 साल तक लड़ाई लड़ी थी। यही वजह है कि इस दिन लोगों को 67 मिनट तक देश के लिए कुछ अच्छा करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है।

नेल्सन मंडेला पुरस्कार

दुनिया भर में शांति के लिए किए गए नेल्सन मंडेला के अथक प्रयासों को देखते हुए साल 2014 में संयुक्त राष्ट्र आम सभा ने नेल्सन मंडेला पुरस्कार शुरू करने की भी घोषणा की। यह पुरस्कार हर पांच साल में एक बार दिया जाता है। इस पुरस्कार को उन लोगों की उपलब्धियों को पहचान देने के लिए दिया जाता है, जिन्होंने मानवता की सेवा में अपना पूरा जीवन समर्पित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »